Home किस्से की पोटली

किस्से की पोटली

‘मेरे तो नाम में ही राम है. बीजेपी के पास कहां हैं राम?’ कहने वाले नेता का निधन हो गया.

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान नहीं रहे. वे पिछले कुछ समय से बीमार थे. उनके बेटे चिराग पासवान ने ट्वीट कर उनके निधन की जानकारी...

अन्ना आंदोलन और सत्ता परिवर्तन के बाद अब तक लोकपाल को संवैधानिक दर्जा नहीं

दिल्ली: गोवा के लोकायुक्त रहे रिटायर्ड जस्टिस प्रफुल्ल कुमार मिश्रा ने लोकपाल पर तीखी टिप्पणी करते हुए कहा कि लोकायुक्त की संस्था को खत्म...

साहस व बुलंद इरादों से लबरेज महान शख्सियत लाल बहादुर शास्त्री

दिल्ली। जब प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने दिल्ली के रामलीला मैदान में हज़ारों लोगों के सामने बोलना शुरू किया तो वो कुछ ज्यादा ही...

2000 रुपये के नोट जारी करने के पक्ष में नहीं थे प्रधानमंत्री: नृपेंद्र मिश्रा

दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2016 में नोटबंदी के बाद 2000 रुपये का नोट जारी करने के पक्ष में नहीं थे। यह फैसला सर्वसम्मति के...

चीन के मुद्दे पर मोदी सरकार की रणनीतियों का नतीजा क्या है?

वर्तमान सन्दर्भों में ये सवाल उठाना लाजमी है कि क्या जो 1950 में नेहरु ने किया वही सारी गलतियाँ क्या मोदी भी कर रहे...

वो तीन वचन जिसकी वजह से भूपेश बघेल मुख्यमंत्री बने

आज Kisse Ki Potli में राजनैतिक किस्से उस राजनेता के, जो शुरू से ही ज़िद्दी था. इतना ज़िद्दी की उसने जेल में बेल लेने...

इस वजह से जब लाल बहादुर शास्त्री ने नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे दिया था.

हाल ही में लेबनान की राजधानी बेरुत में हुए एक धमाके से करीब 200 से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी थी. इस धमाके...

किस्से उस मुख्यमंत्री के जिसकी मृत्यु के बाद भी लोग उसकी आवाज़ सुनने के लिए फोन करते हैं.

किस्से उस मुख्यमंत्री के जिसकी मृत्यु के बाद भी लोग उसकी आवाज़ सुनने के लिए फोन करते हैं.67 साल का एक नेता . वो...

See More