Homeमजबूर भारतमीडिया वालों और विपक्षी नेताओं को पीड़िता के परिवार से मिलने दे...

मीडिया वालों और विपक्षी नेताओं को पीड़िता के परिवार से मिलने दे सीएम योगी आदित्यनाथ: उमा भारती

दिल्ली। हाथरस पीड़िता के समर्थन में भाजपा नेता उमा भारती भी खुलकर सामने आ गई हैं। उन्होंने योगी आदित्यनाथ से कहा कि मीडियावालों और विपक्ष के नेताओं को पीड़िता के परिवार से मिलने दें।

हाथरस पीड़िता को न्याय दिलाने के समर्थन में दिल्ली के जंतर-मंतर पर भारी विरोध प्रदर्शन जारी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी भी जंतर मंतर पहुँचे हैं।

उमा भारती अभी कोविड के कारण एम्स में एडमिट हैं

इस बीच बीजेपी नेता उमा भारती ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से कहा कि वो हाथरस पीड़िता के परिवार से मीडिया वालों और विपक्ष के नेताओं को मिलने दें।

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट किया और कहा, ”यूपी पुलिस की संदिग्ध कार्रवाई से राज्य, आपकी और बीजेपी की छवि धूमिल हो रही है। आप (योगी आदित्यनाथ) एक बहुत ही साफ़ सुथरी छवि के शासक हैं। मेरा आपसे अनुरोध है कि आप मीडियाकर्मियों को एवं अन्य राजनीतिक दलों के लोगों को पीड़ित परिवार से मिलने दीजिये।”

“मैं कोरोना वार्ड में बहुत बैचेन हूं, अगर मैं कोरोना पॉज़िटिव ना होती तो मैं भी उस गांव में उस परिवार के साथ बैठी होती। एम्स ऋषिकेश से छुट्टी होने पर मैं हाथरस में उस पीड़ित परिवार से ज़रूर मिलूँगी।” – उमा भारती (भाजपा नेत्री, पूर्व मुख्यमंत्री – मध्यप्रदेश)

विपक्षी नेताओं ने जंतर मंतर में जारी प्रदर्शन में हिस्सा लिया

सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी के साथ सीपीआई के नेता डी. राजा भी विरोध प्रदर्शन में शामिल होने जंतर-मंतर पहुँचे।

”यूपी सरकार को अब सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है। हमारी माँग है कि हाथरस मामले में न्याय होना चाहिए।” – सीताराम येचुरी (माकपा महासचिव)

जंतर-मंतर पर जारी प्रदर्शन में स्वराज इंडिया के प्रमुख योगेंद्र यादव और भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद भी पहुँचे। कई अन्य राजनीतिक दल के नेता और कार्यकर्ता भी जंतर-मंतर पहुँचे हैं। आम आदमी पार्टी और चंद्रशेखर आज़ाद रावण की आज़ाद समाज पार्टी के लोग भी काफ़ी संख्या में हैं।

वाल्मीकि समाज द्वारा आयोजित प्रार्थना सभा में शामिल हुईं प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी शुक्रवार को दिल्ली के वाल्मीकि मंदिर पहुँची, जहाँ उन्होंने हाथरस की कथित गैंगरेप पीड़ित की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। वाल्मीकि समाज ने प्रार्थना सभा का आयोजन किया था जिसमें प्रियंका गांधी शामिल हुईं। उनके साथ बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता भी थे। हाथरस की पीड़िता वाल्मीकि समाज से आती थीं।

प्रियंका ने वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए हुए कहा, “जब तक आपकी बेटी के साथ, उनके परिवार के साथ और आपके समाज के साथ इंसाफ़ नहीं होगा, यह लड़ाई जारी रहेगी।”

प्रियंका ने कहा कि ये प्रार्थना हाथरस की बेटी के ज़रिए देश की हर बेटी के लिए है। प्रियंका ने कहा, “हम हाथरस की बेटी के लिए न्याय माँगने निकाले हैं और न्याय दिलाकर ही दम लेंगे।”

गुरुवार को प्रियंका गांधी और राहुल गांधी ने हाथरस जाकर पीड़िता के परिवार से मिलना चाहते थे लेकिन पुलिस ने रास्ते में ही हिरासत में ले लिया और उन्हें जाने नहीं दिया।

ये भी पढ़ें – हाथरस सामूहिक बलात्कार कांड – मीडिया को मिली पीड़ित परिवार से मिलने की इजाजत, यह नई जानकारी आयी सामने

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular News

Recent Comments

English Hindi