Homeमजबूर भारतहाथरस में सामूहिक बलात्कार पीड़िता के परिजनों से मिलेंगे राहुल गाँधी और...

हाथरस में सामूहिक बलात्कार पीड़िता के परिजनों से मिलेंगे राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी वाड्रा

14 सितंबर को उत्तरप्रदेश के हाथरस में एक दलित युवती के साथ सामूहिक बलात्कार और बेहद शारीरिक दरिंदगी हुई. युवती 15 दिनों तक मौत से जूझती रही और अंत में दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में दम तोड़ दिया.

इस पुरे प्रकरण में पुलिस और प्रशासन द्वारा बेहद लापरवाही बरती गई. 14 सितम्बर को हुई इस सामूहिक बलात्कार की घटना को 5 दिनों तक पुलिस के रजिस्टर में दर्ज नहीं किया गया था. वैसे ही युवती को समय रहते अस्पताल में दाखिल नहीं करवाया गया.

युवती के शव का पुलिस ने ही आनन-फानन में अन्तिम संस्कार कर दिया. इस अन्तिम संस्कार में कोई भी परिजन मौजूद नहीं था. परिवार के लोगों से भी बदसलूकी की गई. अब इस मामले को लेकर एसआईटी जांच गठित कर दी गई है.

यह भी पढ़ें…
हाथरस बलात्कार हादसे की पीड़िता के शव का परिवारजनों के बिना किया गया अन्तिम संस्कार

इधर कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा गुरुवार को सामूहिक बलात्कार पीड़िता के परिजनों से मिलेंगे. उत्तरप्रदेश सरकार से यात्रा की अनुमति मांगी गई है. राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा साथ कांग्रेस के कई नेता भी रहेंगे.

पीड़िता के शव को जबरिया अन्तिम संस्कार और परिजनों को इसमें शामिल नहीं किये जाने से जनता में भयंकर रोष फैला हुआ है. कुछ प्रदर्शन और तोड़फोड़ की घटनाएं हुई हैं. हाथरस सामूहिक बलात्कार की इस घटना को लेकर दिल्ली में भी प्रदर्शन हुए. लगभग 80 प्रदर्शनकारियों को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है, इनमे से 36 पुरुष और 44 महिलाएं हैं.

यह भी पढ़ें…
हाथरस बलात्कार कांड पर नरेन्द्र मोदी का पुराना विडियो और जनता की ताज़ा भड़ास का तूफ़ान

हाथरस क्षेत्र के सांसद राजवीर सिंह दिलेर ने इस मामले के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की है. उन्होंने मुख्यमंत्री को पीड़ित परिवार की मांगों से अवगत कराया है. दिलेर ने कहा कि फास्ट ट्रैक कोर्ट से जल्द ही पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा.

मृत युवती के पिता ने बताया कि उनकी मुख्यमंत्री से बात हुई है योगी आदित्यनाथ ने पूरा इन्साफ दिलाने का वादा किया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने उनकी मांगें मान ली हैं.

अब इस मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने कदम बढ़ाते हुए उत्तरप्रदेश के पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी किया है. इस नोटिस में घटना का ब्यौरा माँगा गया है.

सोनिया गांधी ने भी एक वीडियो मैसेज जारी किया. इस विडियो में उन्होंने उत्तरप्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए सवाल किया है कि आखिर इतने दिनों तक उत्तरप्रदेश सरकार क्या कर रही थी? कई दिनों तक पीड़ित युवती और परिजनों की आवाज को नहीं सुना गया और पीड़ित बच्ची को समय रहते सही इलाज से वंचित रखा गया.

इस सम्बन्ध में सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका भी दाखिल की गई है. यह याचिका एस दुबे द्वारा दाखिल की गई है. इस मामले को दिल्ली कोर्ट में ट्रांसफर करने के साथ सीबीआई से जांच की भी मांग की गई है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular News

Recent Comments

English Hindi