Homeहलचलयोगी आदित्यनाथ के ‘ऑपरेशन दुराचारी’ जैसी दूसरे देशों में क्या है यौन...

योगी आदित्यनाथ के ‘ऑपरेशन दुराचारी’ जैसी दूसरे देशों में क्या है यौन अपराधियों की सजा?

उत्तरप्रदेश: देश भर में बढती बलात्कार की घटनाओं से जनता त्रस्त है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पर ध्यान देते हुए, यौन अपराधियों के नाम और चेहरे उजागर करने बल्कि सड़कों पर पोस्टर चिपकाये जाने के निर्देश अपने अधिकारीयों को दिए हैं. इस योजना को  ‘ऑपरेशन दुराचारी’ नाम दिया गया है.

ऑपरेशन दुराचारी पर यह भी पढ़ें…
ऑपरेशन दुराचारी के तहत यौन अपराधियों के चेहरे पोस्टरों पर होंगे उजागर

योगी आदित्यनाथ का महिलाओं के खिलाफ़ यौन अपराधियों पर कड़ा रुख बहस का मुद्दा हो सकता है कि यह कितना सही या गलत है. लेकिन इस परिपेक्ष्य में यह जानना भी महत्वपूर्ण हो सकता है कि दुनिया भर के देशों में यौन अपराधियों के लिए कानून में क्या प्रावधान हैं. दुसरे देशों के कानून कितनी कठोर या आसान सजा यौन अपराधियों को देते हैं?

सबसे शक्तिशाली कहे जाने वाले देश अमेरिका में यौन अपराधियों के लिए कई प्रावधान और प्रक्रियाएं हैं. सजा के अलावा यौन अपराधियों को अपना नाम स्वयं ही सेक्स ओफेंडर रजिस्टर में दर्ज कराना होता है. नाम, चेहरा और आइडेंटिफिकेशन मार्क आदि की जानकारी जनता के के लिए उपलब्ध होती है. नौकरी के लिए आवेदन करते हुए, घर खरीदने के समय यह जानकारी बतानी होती है कि वो यौन अपराधी है.  कुछ मामलों में केमिकल कैस्ट्रेशन के तहत इंजेक्शन लगाकर नपुंसक बनाने की भी सजा दी जाती है.

रशिया में यौन अपराधियों की यौन क्षमता को ही ख़त्म करने का प्रावधान है. इसके तहत खास इंजेक्शन इन यौन अपराधियों को लगाया जाता है. इस इंजेक्शन के प्रभाव से अपराधी के शरीर में टेस्टोस्तेरोन बनना कम हो जाते है और यौनइच्छा को कमज़ोर कर देते हैं.  इस प्रक्रिया में यौन अपराधी नपुंसक हो जाता है. इस प्रक्रिया को केमिकल कैस्ट्रेशन कहा जाता है. यह भी सच है कि इसपर मानवाधिकार कार्यकर्त्ता विरोध दर्ज करते आये है लेकिन यह सजा जारी है.

बेहद कड़ी सजा के तौर पर ईरान में आज भी यौन अपराधियों को जनता के सामने खुलेआम मौत की सजा देने का प्रावधान है. यहाँ यौन अपराधी को चौक-चौराहों पर गोली मर दी जाती या फिर फांसी दे दी जाती है. अगर पीड़ित चाहे तो उस अपराधी को माफ़ी देकर मौत की सजा से बचा सकता है. लेकिन इस माफ़ी के बाद भी अपराधी को 100 कोड़े या जिंदगी भर के लिए जेल की सजा तो तय ही है.

अफ़ग़ानिस्तान में भी यौन अपराधी को आम तौर पर खुलेआम मौत की सजा दी जाती है. कुछ मामलों में ये मौत की सजा ना हो कर अंगभंग या कोड़े मरने की सजा होती है.

नीदरलैंड्स जैसे आधुनिक देशों में भी यौन अपराधों को काफी गम्भीरता से लिया जाता है और यौन अपराधियों को कड़ी सजा मिलती है. सबसे अच्छी बात ये है कि इन देशों में यौन अपराधियों पर तेजी से कार्यवाई होती है.

इजिप्ट (मिस्र) में भी यौन अपराधियों को आम तौर पर जनता के सामने ही गोली मारकर या फांसी पर लटका कर मौत की सजा दी जाती है.

नॉर्थ कोरिया में यौन अपराध जैसे बलात्कार या सेक्स के लिए इंसानों की खरीद-फ़रोख्त के अपराधिक मामलों में मौत की सजा का ही प्रावधान है.

अब देखने वाली बात ये है कि उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री “ऑपरेशन दुराचारी” के माध्यम से यौन अपराधियों के खिलाफ़ क्या-क्या प्रावधान लेकर आते हैं. क्या यह प्रयास उत्तरप्रदेश में बढ़ते यौन अपराधों पर अंकुश लगा सकेगा? क्या यह प्रयास दुसरे राज्यों में यौन अपराधों को रोकने के लिए एक सशक्त मॉडल बन पायेगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular News

Recent Comments

English Hindi